आयोग के कर्तव्य और कार्य

आयोग के प्रमुख कार्य एवं कर्तव्य निम्नवत हैः-

• हिंदी तथा अन्य सभी भारतीय भाषाओं के लिए वैज्ञानिक व तकनीकी शब्दों का पारिभाषिक संवर्धन करना तथा पारिभाषिक कोशों, शब्द कोशों तथा विश्वकोशों का प्रकाशन करना
• आयोग द्वारा विकसित मानक शब्दावली व परिभाषाओं का छात्रों, अध्यापकों, शोधकर्ताओं, वैज्ञानिक तथा अधिकारियों तक पहुँचना सुनिश्चित करना
• कार्यशालाओं, प्रशिक्षण कार्यक्रमों, अभिविन्यास कार्यक्रमों तथा संगोष्ठियों के माध्यम से उपयोगी फीड बैक प्राप्त करना और शब्दावली में उचित प्रयोग/आवश्यक अद्यतनीकरण/संशोधन/सुधार सुनिश्चित करना।
• हिंदी तथा अन्य भाषाओं में तकनीकी लेखन को प्रोत्साहित करने के लिए वैज्ञानिक व तकनीकी विषयों की संगोष्ठियों/परिसंवाद कार्यक्रमों व सम्मेलनों को प्रायोजित करना।
• राज्य सरकारों, ग्रंथ अकादमियों, विश्वविद्यालय कोशों/शब्द-संग्रह क्लबों तथा अन्य अभिकरणों के माध्यम से; सभी राज्यों के मध्य समन्वयन स्थापित करते हुए, हिंदी तथा अन्य भारतीय भाषाओं की शब्दावली में एकरूपता स्थापित करना
• मानक शब्दावली के प्रयोग तथा लोकप्रियता को बढ़ाने के लिए, हिंदी तथा अन्य भारतीय भाषाओं में पुस्तकों के प्रकाशन को प्रोत्साहित करना

शब्दावली आयोग के प्रमुख कार्य

• अंग्रेजी-हिंदी तथा हिंदी अंग्रेजी तकनीकी कोश/शब्दावली तैयार एवं प्रकाशित करना।
• अंग्रेजी-क्षेत्रीय भाषाओं के तकनीकी कोश/शब्दावली तैयार एवं प्रकाशित करना।
• त्रिभाषा शब्दावली तैयार एवं प्रकाशित करना।
• परिभाषा कोश तैयार एवं प्रकाशित करना।
• शिक्षार्थी शब्दावलियाँ तैयार एवं प्रकाशित करना।
• विभागीय शब्दावलियाँ तैयार करना, अनुमोदित / प्रकाशित करना।
• परिभाषित एवं निर्मित शब्दों का प्रचार-प्रसार और समीक्षा।
• हिंदी तथा क्षेत्रीय भाषाओं में विश्वविद्यालय स्तर की पुस्तकों का प्रकाशन।
• मोनोग्राफ तैयार एवं प्रकाशित करना।
• पत्रिकाओं का प्रकाशन
• आयोग के कुछ प्रकाशनों का निःशुल्क वितरण
• प्रदर्शनियों का आयोजन




नियम एवं शर्तें | गोपनीयता नीति | सर्वाधिकार नीति | हाइपरलिंक नीति | संबंधित कड़ी | खंडन | अभिगम्यता विवरण | सहायता

सर्वाधिकार © 2018, वैज्ञानिक तथा तकनीकी शब्दावली आयोग
Designed By : Contentra Technologies India Pvt. Ltd.